WORLD

दक्षिण अफ्रीका में ओमीक्रोन वेरिएंट के 330 फीसदी तक कोरोना के नए मामले

केपटाउन। कोरोना वायरस के ओमीक्रोन वेरिएंट से दुनियाभर की टेंशन बढ़ गई है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि ओमीक्रोन स्वरूप से वैश्विक खतरा ‘बेहद अधिक’ है, और इससे ‘गंभीर परिणाम’ हो सकते हैं। इस चेतावनी के बीच ओमीक्रोन वेरिएंट के भयावहता के लक्षण तेजी से सामने आने लगे हैं। दक्षिण अफ्रीका के जिस प्रांत से ओमीक्रोन वेरिएंट सबसे पहले सामने आया था, वहां अस्‍पतालों में मरीजों की संख्‍या 330 फीसदी बढ़ गई है।

दक्षिण अफ्रीका के गौटेंग प्रांत में आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक इस सप्‍ताह कोरोना से पीड़‍ित लोगों को अस्‍पताल में भर्ती कराए जाने के 580 मामले सामने आए हैं। अगर दो सप्‍ताह के आंकड़ों पर गौर करें तो करीब 330 फीसदी की वृद्धि हुई है। गौटेंग प्रांत में ही दक्षिण अफ्रीका की राजधानी जोहानिसबर्ग भी आती है। इस प्रांत के केवल 40 फीसदी लोगों को ही कोरोना वैक्‍सीन का कम से कम एक डोज लगा है।

‘अब तक मामलों में लक्षण बहुत हल्के रहे’
इस इलाके में पिछले साल ओमीक्रोन वेरिएंट के 77 मामले सामने आए थे और दुनिया के कई विशेषज्ञों को यह डर सता रहा है कि ओमीक्रोन सबसे ज्‍यादा संक्रामक वेरिएंट हो सकता है। यही नहीं यह वेरिएंट अपने बहुत ज्‍यादा म्‍यूटेशन की वजह से वैक्‍सीन को भी मात दे सकता है। इस बीच दक्षिण अफ्रीका के चिकित्सकों का कहना है कि कोरोना वायरस के नये ओमीक्रोन स्वरूप के चलते संक्रमण के मामलों में जो तेज वृद्धि देखी जा रही है, उनमें से अधिकतर में लक्षण हल्के हैं।

गौतेंग प्रांत के एक चिकित्सक डॉ. उनबेन पिल्लै का कहना है कि उन्होंने पिछले 10 दिनों में कोविड-19 के नये मामलों में तेज वृद्धि देखी है। देश में नये मामलों में से 81 प्रतिशत मामले गौतेंग प्रांत में सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि अब तक मामलों में लक्षण बहुत हल्के रहे हैं। उन्होंने कहा कि मरीजों में फ्लू जैसे लक्षण, सूखी खांसी, बुखार, रात को पसीना आना, शरीर में दर्द होना शामिल है। उन्होंने कहा कि ज्यादातर का इलाज घर पर ही किया गया है।

बोत्सवाना में अब तक ओमिक्रॉन वैरिएंट के 19 मामलों की पुष्टि
डॉक्‍टर उनबेन ने यह भी कहा कि संक्रमितों में से टीका ले चुके लोगों की स्थिति टीका नहीं लेने वालों से बहुत बेहतर है। दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 के मामलों में हालिया वृद्धि युवाओं में सामने आयी है। चिकित्सक इस बात पर जोर देते हैं कि युवाओं में कोविड-19 के लक्षण अक्सर हल्के होते हैं। उधर, बोत्सवाना में अब तक कोविड के नए खोजे गए ओमिक्रॉन वैरिएंट के कुल 19 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्री एडविन डिकोलोटी ने रविवार शाम को एक ब्रीफिंग में कहा कि पिछले सप्ताह चार विदेशियों के संक्रमित घोषित किए जाने के बाद, अन्य पॉजिटिव कोविड नमूनों के अतिरिक्त आकलन और विश्लेषण के बाद रविवार सुबह ओमिक्रॉन वैरिएंट के 15 और मामले सामने आए हैं।

Advertisements

Our Channel

Facebook Like